रोड रेज केस: सिद्धू को SC से राहत, नहीं जाना होगा जेल, लगाया 1 हजार रुपये का जुर्माना

खास बातेंकोर्ट के फैसले के मुताबिक सिद्धू को जेल नहीं जाना होगाकोर्ट ने सिद्धू पर सिर्फ एक हजार रुपये का जुर्माना लगाया है30 साल पुराना रोड रेज का है मामलानई दिल्ली: 30 साल पुराने रोड रेज के मामले में कांग्रेस नेता नवजोत सिंह सिंद्धू को सुप्रीम कोर्ट से राहत मिली है. सुप्रीम कोर्ट ने सिद्धू को मामूली मारपीट का आरोपी पाया है. कोर्ट के फैसले के मुताबिक सिद्धू को जेल नहीं जाना होगा और उनपर सिर्फ एक हजार रुपये का जुर्माना लगाया है. 

पंजाब सरकार ने अपने मंत्री सिद्धू के खिलाफ हाईकोर्ट के फैसले को बताया था सही 

सिद्धू ने याचिका में कहा था कि वह निर्दोष हैं, उन्हें फंसाया गया है. सुप्रीम कोर्ट ने सभी पक्षों को 24 अप्रैल तक लिखित जवाब दाखिल करने को कहा था. मंगलवार को मामले की सुनवाई के दौरान सिद्धू की तरफ से कहा गया कि इस मामले में कोई भी गवाह खुद से सामने नहीं आया, जिन भी गवाहों के बयान दर्ज किए गए है उनको पुलिस सामने लाई थी. गवाहों के बयान विरोधाभासी है, जो भी मुख्य गवाह है उनके बयान एक दूसरे से अलग है.

पंजाब सरकार की दलील
–  सुनवाई में पंजाब सरकार ने सुप्रीम कोर्ट में कहा है कि पंजाब एवं हरियाणा हाईकोर्ट के उस फैसले को बरकरार रखा जाए, जिसमें नवजोत सिंह सिद्धू व उनके साथी को गैर इरादतन हत्या का दोषी मानते हुए को 3 साल की सजा सुनाई थी.
–  खास बात ये है कि फिलहाल सिद्धू पंजाब सरकार में ही मंत्री हैं. सिद्धू के ये आरोप बेबुनियाद हैं कि उन्हें जानबूझकर कर नही फंसाया गया. ये रोड रेज का मामला है और ऐसा कोई सबूत नही है जिससे साबित हो कि गुरनाम सिंह की मौत दिल के दौरे से हुई थी.


सांड के हमले में बाल-बाल बचे थे नवजोत सिंह सिद्धू
टिप्पणियां

n_h

Leave a Comment