राजस्थान की CM वसुंधरा को अपने ही क्षेत्र में करना पड़ रहा है कार्यकर्ताओं के विरोध का सामना

कोटा: राजस्थान की मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे को अपने विधानसभा क्षेत्र झालावाड़ में पार्टी कार्यकर्ताओं के एक वर्ग के विरोध का सामना करना पड़ रहा है. इसके बाद भी मुख्यमंत्री ने दावा किया है कि उनकी पार्टी आनवाले विधानसभा चुनाव में कुल 180 सीटों पर जीत दर्ज करेगी. भाजपा कार्यकर्ता प्रमोद शर्मा के नेतृत्व में 9 अगस्त को भारत छोड़ो आंदोलन के वर्षगांठ के मौके पर झालावाड़ में पार्टी कार्यकर्ताओं ने बाइक रैली निकाली.

यह भी पढ़ें : वसुंधरा राजे के सीएम घोषित होते ही बीजेपी की रही-सही आस भी खत्म हो गई : सचिन पायलट

इस रैली में कार्यकर्ताओं ने तख्ती थाम रखी थी जिस पर ‘वसुंधरा, वापस जाओ’, ‘वसुंधरा, झालावाड़ छोड़ो’ लिखा हुआ था. इस रैली में 1,000 से ज्यादा कार्यकर्ता 500 मोटरसाइकिल से झालावाड़ और इसके पड़ोसी क्षेत्र झालरापाटन शहरों के बाजारों से गुजरे.

Advertisement
यह भी पढ़ें : सचिन पायलट ने BJP पर बोला हमला, ‘कपड़ों के रंग के आधार भेदभाव नहीं करती कांग्रेस’

आयोजकों ने बताया कि कार्यकर्ता भ्रष्टाचार और झालावाड़ में विकास कार्य नहीं होने को लेकर विरोध कर रहे थे. भाजपा के झालावाड़ में जिला अध्यक्ष ने कार्यकर्ताओं द्वारा लगाए गए आरोपों को खारिज करते हुए कहा कि मुख्यमंत्री के तौर पर वसुंधरा राजे के कार्यकाल में झालावाड़ में विकास के काफी काम किए गए हैं. 
 
VIDEO: वसुंधरा राजे का चुनावी अभियान शुरू

टिप्पणियां

बता दें कि हाल ही में वसुंधरा राजे ने  40 दिनों की राजस्थान गौरव यात्रा की शुरुआत की है. वसुंधरा राजे की गौरव यात्रा को बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह ने राजसमंद में हरी झंडी दिखाई थी. 40 दिन में ये यात्रा 6 हज़ार 54 किलोमीटर का सफ़र तय करेगी और 165 विधानसभा क्षेत्रों में जाएगी. यात्रा के लिए ख़ास तौर पर एक रथ तैयार किया गया है. यात्रा के दौरान जिस लोकसभा क्षेत्र में वसुंधरा जाएंगी वहां के सांसद भी उस दौरान मौजूद रहेंगे. 

(इनपुट : भाषा)

n_h

Leave a Comment