भाजपा पर बंगाली विरोधी होने का आरोप लगाते हुए ममता ने पूछा – क्या आपके लिए हिलसा भी घुसपैठिया है

नई दिल्ली: पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने सोमवार को भाजपा पर बंगाली विरोधी होने का आरोप लगाया और भगवा पार्टी से सवाल किया कि क्या हिलसा मछली, जामदानी साड़ी, संदेश और मिष्टी दोई, जो मूल रूप से बांग्लादेश के हैं, को भी घुसपैठिया या शरणार्थी करार दिया जाएगा. संदेश और मिष्टी दोई मशहूर बंगाली मिठाइयां हैं.असम की राष्ट्रीय नागरिक पंजी (एनआरसी) के अंतिम मसौदे में 40 लाख से ज्यादा लोगों के नाम शामिल नहीं किए जाने को लेकर केंद्र की भाजपा नीत सरकार पर अपना हमला तेज करते हुए ममता ने यह टिप्पणी की.

यह भी पढ़ें: पहली बार NRC पर बोले PM मोदी, किसी भी भारतीय नागरिक को देश नहीं छोड़ना पड़ेगा

ममता ने कहा कि ये 40 लाख लोग पूरी तरह भारतीय हैं. उन्होंने उन मानदंडों पर भी सवाल उठाए जिसके आधार पर 40 लाख से ज्यादा लोगों के नाम एनआरसी के अंतिम मसौदे में शामिल नहीं किए गए हैं. उन्होंने कहा कि यदि सरकार उनसे उनके माता-पिता के जन्म प्रमाण-पत्र मांगेगी तो वह भी इन दस्तावेजों को पेश नहीं कर पाएंगी. ममता ने कहा कि मैं अपने माता-पिता के जन्म की तारीखें नहीं जानती. मैं सिर्फ उनकी मृत्यु की तारीखें जानती हूं.

Advertisement
यह भी पढ़ें: ममता बनर्जी के गढ़ में बोले अमित शाह- TMC के शासन को बंगाल से उखाड़ फेंकना है
टिप्पणियां

n_h

Leave a Comment