कुमारस्वामी को पिता एचडी देवेगौड़ा की महत्वाकांक्षाएं ले आईं राजनीति में

खास बातेंकुमारस्वामी सन 2006 से 2007 तक कर्नाटक के मुख्यमंत्री रहेरामनगर विधानसभा क्षेत्र का नेतृत्व करते रहे हैंसन 2006 में दक्षिण की अभिनेत्री राधि‍का से गुपचुप शादी कीनई दिल्ली: कर्नाटक में जेडीएस के नेता और पूर्व मुख्यमंत्री कुमारस्वामी ने कांग्रेस को सरकार बनाने के लिए बिना शर्त के समर्थन
दिया है. पूर्व प्रधानमंत्री एचडी देवेगौड़ा के पुत्र कुमारस्वामी को राजनीतिक विरासत अपने पिता से मिली. हालांकि वे पहले फिल्म निर्माता और फिल्म वितरक थे लेकिन बाद में पिता के पदचिन्हों पर चलकर राजनीति में आ गए.     

कुमारस्वामी का पूरा नाम हरदनहल्ली देवगौड़ा कुमारस्वामी है और उनके करीबी व समर्थक उन्हें कुमारान्ना कहते हैं. उनका जन्म 16 दिसम्बर 1959 को  मैसूर क्षेत्र के हरदनहल्‍ली में हुआ. सन 1996 में राजनीति में पर्दापण करने वाले कुमारस्‍वामी ने अब तक नौ चुनाव लड़े और छह में उन्होंने जीत हासिल की. वे सन 2006 से 2007 तक कर्नाटक के मुख्यमंत्री रहे हैं. वे इस प्रदेश के 18 वें मुख्यमंत्री रहे. वे जनता दल (सेक्युलर) की कर्नाटक इकाई के अध्यक्ष भी हैं. कुमारस्वामी रामनगर विधानसभा क्षेत्र का नेतृत्व करते रहे हैं.  

यह भी पढ़ें : क्लर्क से सीएम पद तक पहुंचे येदियुरप्पा, जानिए उनके बारे में सबकुछ


कुमारस्वामी के राजनीतिक भविष्य को लेकर उनके पिता देवेगौड़ा काफी महत्वाकांक्षी रहे हैं. कर्नाटक के निवर्तमान मुख्यमंत्री और कांग्रेस के नेता सिद्धारमैया पहले जेडीएस में थे और मुख्यमंत्री बनना चाहते थे. कहा जाता है कि देवेगौड़ा कुमारस्वामी के नेतृत्व में पार्टी का भविष्य देख रहे थे और इसी कारण उन्होंने सिद्धारमैया को सन 2005 में जेडीएस से निष्कासित कर दिया.  

यह भी पढ़ें :राजनीति के कई उतार-चढ़ाव देख चुके हैं सिद्धारमैया

जेडीएस ने सन 2006 में बीजेपी के साथ मिलकर सरकार बनाई थी और कुमारस्वामी मुख्यमंत्री बने थे. इस गठबंधन सरकार में सीएम का पद दोनों पार्टियों के पास आधे-आधे कार्यकाल में रहना था. जब बीजेपी के येदियुरप्पा के सीएम बनने की बारी आई तो कुमारस्वामी ने समर्थन वापस ले लिया. इस तरह सरकार गिर गई.

टिप्पणियां

n_h

Leave a Comment